Breaking

Sunday, 24 March 2019

जीवन में आगे बढ़ना है, तो यह ना करें!

      

जीवन में आगे बढ़ना है, तो यह ना करें!

" सफलता हासिल करने वाले कभी भी फालतू की बातों में समय व्यर्थ नहीं करते! वे रचनात्मक तरीके से सोचते हैं और वे जानते हैं कि उनकी सोचने का स्तर ही उनकी सफलता निर्धारित करेगा!"

   जो इंसान गलतियों से सबक लेकर आगे बढ़ते हैं, वहीं लंबी रेस जीत लेते हैं! वहीं, जो अपनी गलतियों को दूसरों के  ऊपर डालकर पल्ला झाड़ते हैं, वे पीछे छूट जाते हैं! यह फैसला आपको करना है कि आप अपनी गलतियों से सीख कर आगे बढ़ेंगे या बार-बार उन्हें दोहराएंगे! दोस्तों जाने -अनजाने हम ऐसी कई चीजें करते हैं जो हमारे लिए ठीक नहीं होती है! तो आइए जानते हैं वह कौन सी चीजें हैं जिससे हमें दूर रहने की जरूरत है:

1. दूसरों से अपनी तुलना करना:-

     इस दुनिया में हर इंसान के पास अपना एक अलग 'टैलेंट' होता है! कोई पढ़ने में, कोई बातें करने में, कोई खूबसूरती में, कोई दिमागी रूप से, कोई शारीरिक रूप से  और भी ऐसे बहुत सारे हैं! जीवन में कभी किसी से अपनी तुलना मत कीजिए! आप जैसे हैं, सर्वश्रेष्ठ हैं! ईश्वर की हर रचना अपने आप में सर्वोत्तम होती है! हर इंसान के अंदर कुछ ना कुछ खूबियां जरूर होती है! जो इंसान को भीड़ से अलग बनाती है, जो कुछ भी आप के पास खूबियां हैं उसे लेकर आगे बढ़े फिर दुनिया की कोई ताकत आपको सफल होने से नहीं रोक सकती!

2. जो बीत गया उस पर बार-बार अफसोस करना:-

  जिंदगी बहुत ही छोटी है इसलिए कभी भी अपने अतीत को अपने वर्तमान और भविष्य को खराब  करने  ना दे! अपने अतीत को भूल कर आज में जीना सीखें!  हर इंसान को अपनी जिंदगी में असफलता का सामना करना पड़ता है! जैसे जैसे समय बीतता है तो यह असफलताएं उनका अतीत बन जाता है और उन असफलताओं को सोच सोच कर अपना वर्तमान खराब कर बैठते हैं! जब तक हम अपने अतीत को पकड़े रहेंगे! तब तक हम अपनी जिंदगी में कुछ नया नहीं कर सकते! याद रखें कि हम भूतकाल को बदल नहीं सकते, लेकिन उनके बारे में चिंता करके वर्तमान को खराब जरूर कर लेंगे और यदि वर्तमान खराब हुआ तो भविष्य खराब हो ही जाएगा!

3. किसी काम के लिए दूसरों पर निर्भर रहना:-

     अक्सर देखा जाता है कि लोग अपने कई जरूरी काम बस इसलिए पूरा नहीं कर पाते क्योंकि वह किसी और पर काफी निर्भर रहते हैं! इससे आप अपनी 'लाइफ' आसान नहीं बनाते बल्कि आपको दूसरों के भरोसे रहने की आदत पड़ जाती है! जो कि आपके भविष्य के लिए कदापि उचित नहीं होगा! इसलिए दोस्तों, किसी व्यक्ति पर निर्भर ना रहे! अपना कार्य खुद ही पूरा करने की कोशिश करें!

4. भाग्य के भरोसे बैठना:-

     सफलता उसी व्यक्ति के कदम चूमती है जो निरंतर संघर्ष करते हैं! इन दिनों हर क्षेत्र में प्रतियोगिता इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि भाग्य के सहारे  बैठना कतई उचित नहीं है! जो लोग भाग्य के भरोसे बैठने की भूल करते हैं उसका अन्य व्यक्तियों से पिछड़ जाना मुमकिन है क्योंकि इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति अपने कर्मों के जरिए ही अपना भाग्य स्वयं लिखता है!

5. असफल होने का डर:-

     असफलता का डर तब होता है, जब हम अपने क्षमताओं को सीमित कर देते हैं! डर हमें किसी भी नए या रचनात्मक  कार्य को करने से रोकता है! हमारे मन में हमेशा एक शंका पैदा करता है हम इस कार्य को नहीं कर सकते हैं! यह डर हमारे मन में रहता है और धीरे-धीरे यह डर हम पर हावी  हो जाता! हम अपने कार्य को करने में नाकामयाब हो जाते हैं और इसका दोष हम दूसरों को देते हैं या परिस्थितियों को देने लगते हैं!

  हम यह मानते हैं कि सब की परिस्थितियां अलग-अलग होती है सब का डर अलग-अलग होता है और उस डर को काबू करने का तरीका अलग-अलग हो सकता है, लेकिन उसकी जड़ सिर्फ और सिर्फ खुद पर विश्वास करना है!

      दोस्तों, यदि आप अपने को शीर्ष पर देखना चाहते हैं तो आप अभी ईमानदारी से इन सभी चीजों को अपने जीवन से दूर कर दें!                          
  ( Best Of Luck For the New Life.)
                          ***

1 comment:

If You Have Any Doubts.