Breaking

Thursday, 23 May 2019

आपका लक्ष्य स्पष्ट होना चाहिए!

      

आपका लक्ष्य स्पष्ट होना चाहिए!

" पृथ्वी पर कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जिसको समस्या ना हो और पृथ्वी पर कोई समस्या ऐसी नहीं है जिसका कोई समाधान ना हो! मंजिल चाहे कितनी भी ऊंची क्यों ना हो रास्ते हमेशा पैरों के नीचे ही होते हैं! "

   आज के दौर में जिंदगी की रफ्तार पहले के मुकाबले कहीं तेज है! समय बदल गया है और 'टेक्नोलॉजी' के बदलते प्रभाव को हर जगह महसूस किया जा सकता है!' टेक्नोलॉजी' ने काम करने के तौर-तरीके को भी काफी हद तक प्रभावित किया है!
     
 वर्तमान में जीना एक बढ़िया नीति है, लेकिन यह तय करना भी बहुत जरूरी है कि अगले 5 साल में हम कहां तक पहुंचना चाहते हैं! फिर भी अक्सर कई कारणों से हम लक्ष्य से भटक जाते हैं या उस तक पहुंचने में सफल नहीं हो पाते हैं!
       
    यदि आपने अपने लिए लक्ष्य नहीं बनाए हैं तो आपकी जिंदगी तो चलती रहेगी पर जब आप बाद में पीछे मुड़कर देखेंगे तो शायद आपको पछतावा हो कि आपने कुछ खास ' Achieve ' नहीं किया है! लक्ष्य व्यक्ति को एक सही दिशा प्रदान करता है और व्यक्ति को यह बताता है कि कौन सा काम उसके लिए जरूरी है और कौन सा नहीं!
         
वह समय चला गया जब व्यक्ति किसी एक ही संस्था में लगभग एक सा काम करते पूरी जिंदगी गुजार देता था! आज पहले की अपेक्षा विकल्प कहीं ज्यादा है और इसका फायदा यह हुआ कि आप अपनी क्षमताओं और ' Interest' के हिसाब से अपने लिए कैरियर का चुनाव कर सकते हैं! 

यदि आप अपनी योग्यता को लगातार 'अपग्रेड' करते रहे तो आपकी तरक्की की कोई सीमा नहीं है! सबसे पहले तो यह आपको साफ तौर पर यह मालूम होना चाहिए कि आप जिंदगी में क्या करना चाहते हैं! इसके बाद जरूरत होती है एक योजना बनाने की और फिर उस पर अमल करने की!



       
  हम में से हर एक के पास 1 दिन में 24 घंटे ही होते हैं फिर भी कुछ लोग ज्यादा सफल हो जाते हैं और कुछ कम! क्या आपने सोचा है कि इसका कारण क्या है? जवाब में मेरा मानना है कि सफल लोग काम को करने के अपने तरीके विकसित कर लेते हैं! उनके सामने हर दम अपना लक्ष्य होता है और काम से जुड़ी उनकी प्रत्येक गतिविधि लक्ष्य की तरफ ही निर्देशित होती है! वे नई चीजें सीखते हैं और गलतियों से सबक लेते हैं जो कि सफलता प्राप्ति के लिए बेहद जरूरी है!
        
       किसी ने ठीक ही कहा है कि" सफलता के पीछे अनुभव होता है और अनुभव के पीछे ढेर सारी असफलताएं" जाहिर है कि यदि निराश हुए बिना असफलताओं का ध्यान से अध्ययन किया जाए तो आपके भविष्य की बड़ी सफलता की ' आधार' रखी जा सकती है!

आप अपने आप से 2 सवाल पूछने की आदत डालें " क्यों और कैसे? "  इससे आप अपने लक्ष्य के बारे में और अधिक स्पष्ट हो पाएंगे तथा साथ ही यह भी जान पाएंगे कि आपको उसे हासिल करने के लिए क्या-क्या करने की आवश्यकता है!
     
 लक्ष्य केंद्रित होने से सफलता की संभावना कई गुना बढ़ जाएगी और यह भी ध्यान रखें कि एक समय पर केवल एक ही लक्ष्य की दिशा में काम करें! नहीं तो बहुत सारी चीजें एक साथ करने के चक्कर में आपसे कुछ भी नहीं हो पाएगा! आपको अपने जीवन के महत्व को तय करना भी सीखना होगा! इससे हमारा तात्पर्य उन चीजों से हैं जिन्हें आप जीवन में सबसे अधिक प्राथमिकता देते हैं तथा अपने आप में हमेशा अच्छी आदतें विकसित करने का प्रयास करें! 

यह हम में से हर कोई कर सकता है! आप पूछेंगे कि कैसे? " रिसर्च " बताता है कि किसी भी गतिविधि को यदि आप 20 से 25 दिन तक लगातार दोहराते रहे तो यह आपकी आदत में शामिल हो जाता है! अच्छी आदतें आपके व्यक्तित्व को निखारती है और इस बात से अधिकतर सहमत होंगे कि व्यक्तित्व और सफलता का आपस में गहरा संबंध होता है!



    दोस्तों, आज का आर्टिकल आप सभी को कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें आशा है आप सभी के जीवन में परिवर्तन जरूर आएगा!
                                
  " Best of Luck for New Life."
                  @@@

No comments:

Post a Comment

If You Have Any Doubts.