Breaking

Monday, 1 July 2019

सकारात्मक सोच से ही फर्क पड़ता है!

सकारात्मक सोच से ही फर्क पड़ता है!

" इस दुनिया में असंभव कुछ भी नहीं, हम वह सब कर सकते हैं जो हम सोच सकते हैं और हम  वह सब कर सकते हैं जो आज तक हमने सोचा ही नहीं! "
          
       सकारात्मक सोच जिंदगी को बेहतर बनाने में मददगार होता है इससे विपरीत परिस्थितियों में भी निराशा पास नहीं भटकती और आगे बढ़ने का हौसला बना रहता है! व्यक्ति जैसा सोचता है उसका व्यक्तित्व भी उसी के अनुसार ढल जाता है! यदि आप के मन मस्तिष्क में हमेशा नकारात्मक बातें आती है तो बाद में आप थक जाएंगे और काम से दूर भागते जाएंगे! ऐसे में मंजिल भी आपसे दूर होती चली जाती है! 

इसके विपरीत यदि प्रतिकूल परिस्थितियां आती हैं और सोच सकारात्मक है तो आपका हौसला बना रहेगा तथा आगे बढ़ने में नए-नए विचार मन में आते रहेंगे! साथ ही किसी समस्या के समाधान के लिए सदैव प्रयत्नशील रहेंगे!

     
सकारात्मक सोच सदा ही फायदेमंद होती है, जरूरी नहीं कि आप कोई काम शुरू करें और आप को एकदम से सफलता मिल ही जाए! किसी भी काम में चाहे छोटा हो या बड़ा तमाम बाधाएं आती ही हैं लेकिन उन बाधाओं को दूर करने में वही लोग सक्षम होते हैं जिनकी सोच सकारात्मक होती है!
            
सकारात्मक सोच के साथ यदि आप कोशिश करेंगे तो आपकी कल्पना हकीकत में बदल सकती है! इसलिए सोच को सकारात्मक रखना आवश्यक है इसके लिए कुछ बातों का ध्यान रखें:-

आप चाहे जिस भी क्षेत्र से हो, नई- नई चीजें सीखने की कोशिश करें! नई बातें सीखने से आगे बढ़ने का आपका उत्साह बना रहेगा और नकारात्मक बातें आपके मन में नहीं आएगी!


* असफलता मिलने पर उसके कारणों का पता लगाएं! ऐसे में किसी के 'कमेंट' पर ध्यान ना दें और नकारात्मक सोच वाले लोगों से दूर रहें!


* अब वह जमाना नहीं रहा जब अकेले आदमी सब कुछ संभाल लेता था! अब जिम्मेदारियां  बाटनी पड़ती है! इसी कारण जिम्मेदारियों को उठाने के लिए एक सबसे बेहतर मजबूत इरादों वाले समूह की आवश्यकता होती है!




* आज जब आप बाजार में होते हैं तब आपके आस-पास की ढेरों चमकती हुई चीजें आपको आकर्षित करती है! लेकिन उसमें से क्या आपके लिए सही है, इसका फैसला करना ही महत्वपूर्ण होता है और इस नई दौर में निर्णय के लिए अधिक समय नहीं मिलता! हमें जल्द और सटीक फैसले लेने होते हैं!

* व्यक्ति को कभी भी बदलाव से नहीं घबराना चाहिए क्योंकि बदलाव ही प्रकृति का नियम है और इस नियम से चाहकर भी आप मुंह नहीं मोड़ सकते!


* हर इंसान को सपने देखने चाहिए लेकिन सपने वही हो जो धरातल की आधार पर खड़ी हो, जीवन सपनों की उड़ान ही तो है  जिसमें बहुत कुछ सपने पूरे होते है! लेकिन उन सपनों से ही हमें आगे बढ़ने की राह दिखाई देती रहती है!

        
यदि आपको कोई भी परिस्थिति जटिल लगे, तो उसे जीतने के लिए नए- नए तरीके सीखने से आप में 'आत्मविश्वास' और 'उत्साह' बढ़ेगा! इसके अलावा आप में जानकारी का दायरा भी बढ़ता जाएगा, इसके साथ ही साथ सोच व्यापक होता है और आप परिस्थितियों का सामना बेहतर तरीके से करने में सक्षम बनते हैं! 
                                       
 ( BEST OF LUCK FOR THE NEW LIFE )
                                 @@@

No comments:

Post a Comment

If You Have Any Doubts.