Breaking

Wednesday, 25 September 2019

THE SECRET OF HAPPINESS.

THE SECRET OF HAPPINESS. 

" जिंदगी उसी को आजमाती है, जो हर मोड़ पर चलना जानता है! कुछ पाकर तो हर कोई मुस्कुराता है, जिंदगी उसी की होती है जो सब खोकर भी मुस्कुराना जानता है!"
         
        ऐसे लोग जो आपकी जिंदगी में सही मायने में बदलाव लाते हैं! ना तो बहुत पैसे वाले होते हैं ना ही उनके पास ढेरों अवार्ड  होते हैं! वे ऐसे लोग होते हैं जो आपको सचमुच बहुत प्यार करते हैं! हर छोटी-बड़ी मुश्किलों में आपका साथ देते हैं  तथा आपकी केयर करते हैं! ऐसे ही लोग आपकी लाइफ के लिए सबसे इंपॉर्टेंट होते हैं! यह लोग आपकी बेहतर जिंदगी की वजह बनते हैं!
          
     हम सभी खुशियां ढूंढते हैं तथा उनके पीछे भागते हैं लेकिन खुशी होती क्या है और रहती कहां है यह ज्यादातर लोग नहीं जानते! जाने अनजाने में अपने खुश होने या ना होने के लिए हम खुद ही जिम्मेदार होते हैं! अगर हमारा फोकस पॉइंट नेगेटिव चीजें हैं तो बेशक इसका असर हमारी जिंदगी पर पड़ता है!
       
      खुशमिजाज रहने से ना केवल दूसरों की नजर में आपकी लोकप्रियता बढ़ती है बल्कि आप अंदर से भी तरोताजा महसूस करते हैं! ऐसी मानसिक स्थिति के साथ जब आप अपना काम करते हैं तो वहां भी आप बेहतर परफॉर्मेंस दे पाते हैं! खुश रहना आप की मन:स्थिति पर निर्भर करता है, जिसे पाने की कला आपको अपने अंदर विकसित करनी चाहिए! खुश रहना इस बात पर निर्भर करता है कि आप अपनी परिस्थितियों को कितना सकारात्मक रूप से ग्रहण करते हैं! 

       खुश रहने का मतलब यह नहीं कि हमारी जिंदगी में दुख ना हो! खुश रहना एक कला है और जिसे यह आती है वह हर हाल में जिंदगी का आनंद लेता है! जब हम मुस्कुराएंगे तो हमसे जुड़े हुए लोग भी हंसते हुए नजर आएंगे! 


         अपनी खुशियों को बरकरार रखने के लिए जरूरत है कि हम अपने आसपास का माहौल खुशगवार बनाएं! जब हम ऐसा कर लेंगे तो जिंदगी खुद-ब-खुद आसान हो जाएगी!


   
  जब तक हम बाहरी कारणों से परेशान होते रहेंगे तब तक हमारे दुख बने रहेंगे और हम खुद को लाचार महसूस करते रहेंगे! जिंदगी अगर खुश रहकर काटी जाए तो बहुत छोटी होती है लेकिन अगर दुखी मन से रहे तो पहाड़ जैसी बड़ी नजर आएगी!

 खुशियां बांटने से ही बढ़ती है इसलिए जरूरी है कि हम अपनी खुशियों में दूसरों को भी शामिल करें! खुश रहना हमारा स्वभाव है जब हम अपने अंदर से सभी ' अनकंफरटेबल इमोशंस 'को बाहर निकाल देते हैं तो जो कुछ बचता है वह खुशी होती है!
          
 जीवन में कभी सुख रहता है तो कभी दुख परेशान करता है! आध्यात्मिक नजरिए से देखा जाए तो दोनों ही हमें कष्ट देने वाले होते हैं! कभी सुख तो कभी दुख के मोह में फंस कर हम यह भूल जाते हैं कि यह दोनों ही समय से बंधे हैं! 

जब सुख का समय होगा तो सुख रहेगा और जब दुख का तो दुख रहेगा! इससे होने और न होने के बीच ही हमारी सारी जिंदगी गुजर जाती है! अपने मन के जिन झरोखों को हमने बंद कर रखा है वह हमारे व खुशियों के बीच सबसे बड़ी दीवार होती हैं!

असली खुशी वह होती है जो हमारे अंदर से आते हैं और बाहरी चीजों की मोहताज नहीं होती है! आप लोगों को उनकी आजादी तो दे सकते हैं लेकिन उनकी खुशियां नहीं दे सकते! 

खुश होने का रास्ता खुद तलाशना होता है, किसी को पाने के लिए हमें कहीं जाने की जरूरत नहीं होती! वह तो हमारे अंदर ही है बस जरूरत है तो उसे ढूंढने की!
    " Smile, It increases your face value."
                😊😄😆😂😅😂😁😄

No comments:

Post a Comment

If You Have Any Doubts.